महागठबंधन के धरने को प्रशासन ने गांधी मैदान में नहीं दी अनुमति गेट पर ही बैठे ..

0
8

PATNA: कृषि बिल के विरोध में आज महागठबंधन के नेताओं का धरना गांधी मैदान के गेट नंबर 4 पर प्रारंभ हुआ. जिला प्रशासन ने गाँधी मैदान के अंदर धरना की अनुमति नहीं दी. जिसके बाद महागठबंधन के नेता एवं कार्यकर्ता 4 नंबर गेट पर ही धरना पर बैठ गए.
महागठबंधन के नेता गांधी मैदान के अंदर गांधी मूर्ति के सामने धरना देना चाहते थे, लेकिन जिला प्रशासन ने इन्दर धरना की अनुमति नहीं दी. प्रशासन के मुताबिक गांधी मैदान के अंदर धरना के लिए कोई जगह नहीं है. ज्ञात हो की कृषि बिल के विरोध में आज तेजस्वी यादव सम्रेट महागठबंधन नेता पटना गांधी मैदान में धरना देने वाले थे.
कृषि बिल के विरोध में तेजस्वी ने केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर आरोप लगते हुए कहा कि वे लोगों से अपील करते है की वे इस काले कानून के खिलाफ सड़कों पर आए और इस आंदोलन को मजबूत करें. मोदी सरकार किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करनी की बात करती है, लेकिन एमएसपी को खत्म कर दिया है. कृषि को भी प्राइवेट हाथ को सौंप रही है. जिससे प्राइवेट कंपनियों से किसान खरीद बिक्री करेंगे. लेकिन सरकार के सारे फैसले को हमलोगों ने देखा चाहे नोटबंदी हो गया कुछ हो. देश भर में मौजदा सरकार से किसान नाराज हैं. यह किसान विरोधी कानून है. किसानों को उनके फसल का सही सही मूल्य मिलना चाहिए. कर्ज में डूबे किसान आत्महत्या कर रहे है ये काला कानून को केंद्र सरकार द्वारा वापस नहीं लिए जाने तक किसानों का आन्दोलन जारी रहेगा

No comments to show.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here